कुब्जा कूप

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
(संस्करणों में अंतर)
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
(कुब्जा कूप / Kubja Kup)
 
पंक्ति 7: पंक्ति 7:
 
*कंस–वध के पश्चात कृष्ण ने [[उद्धव|उद्धवजी]] के साथ उसके इसी निवास स्थान पर कुछ समय के लिए उपस्थित होकर उसका मनोरथ पूर्ण किया।
 
*कंस–वध के पश्चात कृष्ण ने [[उद्धव|उद्धवजी]] के साथ उसके इसी निवास स्थान पर कुछ समय के लिए उपस्थित होकर उसका मनोरथ पूर्ण किया।
  
 +
==टीका टिप्पणी और संदर्भ==
 +
<references/>
 +
==सम्बंधित लिंक==
 +
{{कृष्ण2}}
 
[[Category:कोश]]
 
[[Category:कोश]]
 
[[Category:मथुरा]]
 
[[Category:मथुरा]]

13:29, 20 फ़रवरी 2014 के समय का संस्करण

कुब्जा कूप / Kubja Kup

टीका टिप्पणी और संदर्भ

सम्बंधित लिंक

निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स
अन्य भाषाएं