पुष्य नक्षत्र

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
(संस्करणों में अंतर)
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
('{{menu}} ==पुष्य नक्षत्र / Pushya Nakshatra== यह नक्षत्र सर्वश्रेष्ठ ...' के साथ नया पन्ना बनाया)
 
 
पंक्ति 1: पंक्ति 1:
 
{{menu}}
 
{{menu}}
 
==पुष्य नक्षत्र / Pushya Nakshatra==
 
==पुष्य नक्षत्र / Pushya Nakshatra==
यह [[नक्षत्र]] सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।
+
पुष्य नक्षत्र कर्क राशि के 3-20 अंश से 16-40 अंश तक है। यह [[नक्षत्र]] सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।
 
<poem>अर्थ - पोषण
 
<poem>अर्थ - पोषण
 
देव - बृहस्पति</poem>
 
देव - बृहस्पति</poem>
*पुष्य नक्षत्र कर्क राशि के 3-20 अंश से 16-40 अंश तक है।
 
 
*इसे 'ज्योतिष्य और अमरेज्य' भी कहते हैं। अमरेज्य शब्द का अर्थ है- देवताओं का पूज्य।  
 
*इसे 'ज्योतिष्य और अमरेज्य' भी कहते हैं। अमरेज्य शब्द का अर्थ है- देवताओं का पूज्य।  
 
*इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है, पर इसके गुण गुरु के गुणों से अधिक मिलते हैं।  
 
*इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है, पर इसके गुण गुरु के गुणों से अधिक मिलते हैं।  

13:49, 3 मई 2012 के समय का संस्करण

पुष्य नक्षत्र / Pushya Nakshatra

पुष्य नक्षत्र कर्क राशि के 3-20 अंश से 16-40 अंश तक है। यह नक्षत्र सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।

अर्थ - पोषण
देव - बृहस्पति

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स