हकीम ब्रजलाल वर्मन स्वतंत्रता सेनानी

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
हक़ीम ब्रजलाल वर्मन
Hakim Brajlal Verman

श्री हकीम ब्रजलाल वर्मन / Hakim Brajlal Varman

आत्मज श्री मन्नीलाल वर्मन।

कृष्णापुरी, मथुरा

असहयोग आन्दोलन में भाग लेने के कारण सन 1922 में 3 मास कैद या 50 रुपये जुर्माना हुआ।

नमक सत्याग्रह आन्दोलन में भाग लेने के कारण सन 1930 में 1 वर्ष के कारावास का दण्ड मिला।

पुन: सविनय अवज्ञा अन्दोलन में भाग लेने के कारण सन 1932 में 1 वर्ष कैद और 200 रुपये जुर्माने की सजा मिली।

व्यक्तिगत सत्याग्रह आन्दोलन के दौरान सन 1941 में 1 वर्ष के कारावास का दण्ड और 500 रुपये जुर्माना हुआ।

"भारत छोड़ो" आन्दोलन में भाग लेने के कारण सन 1942 में नजरबन्द किये गये।

1908 से कांग्रेस के सदस्य, ज़िले में कांग्रेस के संस्थापक, भूतपूर्व अध्यक्ष ज़िला बोर्ड तथा ज़िला कांग्रेस।

भूतपूर्व सदस्य उत्तर प्रदेश विधान परिषद। स्वर्गवासी हैं।

निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स
अन्य भाषाएं