ब्राह्मण

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज

ब्राह्मण / Brahmin / Brahman

  1. अर्चा
  2. दान
  3. अजेयता तथा
  4. अवध्यता।
  1. ब्राह्मण्य (वंश की पवित्रता)
  2. प्रतिरूपचर्या (कर्तव्यपालन) तथा
  3. लोकपक्ति (लोक को प्रबुद्ध करना)।
  1. पठन
  2. पाठन,
  3. यजन
  4. याजन
  5. दान
  6. प्रतिग्रह

ब्राह्मणों का वर्गीकरण

इस समय देश भेद के अनुसार ब्राह्मणों के दो बड़े विभाग है:

  1. पंचगौड और
  2. पंचद्रविण।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. (ऐतरेय ब्राह्मण 7.29,2)
  2. (शतपथ ब्राह्मण 1,6,2,4)
  3. (बृ0 उ0 6,1,1)
  4. (शतपथ ब्राह्मण 11,6,1,1)
निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स