शिव के अवतार

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज

शिव के अवतार / Avtar of Shiva

अर्धनारीश्वर
Ardhnarishwar
  1. महाकाल,
  2. तारा,
  3. भुवनेश,
  4. षोडश,
  5. भैरव,
  6. छिन्नमस्तक गिरिजा,
  7. धूम्रवान,
  8. बगलामुखी,
  9. मातंग और
  10. कमल नामक अवतार हैं।
  1. कपाली,
  2. पिंगल,
  3. भीम,
  4. विरुपाक्ष,
  5. विलोहित,
  6. शास्ता,
  7. अजपाद,
  8. आपिर्बुध्य,
  9. शम्भु,
  10. चण्ड तथा
  11. भव का उल्लेख मिलता है। ये सभी सुख देने वाले शिव रूप हैं। दैत्यों के संहारक और देवताओं के रक्षक हैं।
  1. सौराष्ट में ‘सोमनाथ’,
  2. श्रीशैल में ‘मल्लिकार्जुन’,
  3. उज्जयिनी में ‘महाकालेश्वर’,
  4. ओंकार में ‘अम्लेश्वर’,
  5. हिमालय में ‘केदारनाथ’,
  6. डाकिनी में ‘भीमेश्वर’,
  7. काशी में ‘विश्वनाथ’,
  8. गोमती तट पर ‘त्र्यम्बकेश्वर’,
  9. चिताभूमि में ‘वैद्यनाथ’,
  10. दारुक वन में ‘नागेश्वर’,
  11. सेतुबन्ध में ‘रामेश्वर’ और
  12. शिवालय में ‘घुश्मेश्वर’।

वीथिका

सम्बंधित लिंक


निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स