तुरीयातीतोपनिषद

ब्रज डिस्कवरी, एक मुक्त ज्ञानकोष से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज


तुरीयातीतोपनिषद

शुक्ल यजुर्वेद के इस उपनिषद में पितामह ब्रह्मा तथा आदिनारायण के प्रश्नोत्तर हैं। इसमें ब्रह्मा जी नारायण से तुरीयातीत-अवधूत का मार्ग पूछते हैं। आदिनारायण इस मार्ग पर चलने वालों की कठिनाई और अवधूत के आचरण-व्यवहार, चिन्तन-मनन आदि की कार्य-पद्धति बताते हैं, जिस पर चलकर व्यक्ति जीवन का चरम लक्ष्य प्राप्त कर लेता है।

अवधूत मार्ग



सम्बंधित लिंक

निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
टूलबॉक्स